Intezar Shayari | इंतज़ार शायरी | Waiting Shayari
Intezar Shayari | इंतज़ार शायरी | Waiting Shayari

Intezar Shayari | इंतज़ार शायरी | Waiting Shayari

Posted on

Intezar Shayari | इंतज़ार शायरी | Waiting Shayari – आप सभी का स्वागत है! आपकी अपनी website पर हम आपके लिए हिंदी में इंतज़ार शायरीWaiting Shayari In Hindi में लाये है! इसमें आपको आपकी पसंद की इंतज़ार शायरी, waiting shayari, call ka intezar वाली शायरी, aapke message ka intezar shayari. kaate nahi katte lamhe intezaar ke इस तरह की शायरी आपको इस पोस्ट में पढने को मिलेंगी पोस्ट को पूरा पढना और मैं आशा करता हूँ! कि ये शायरी आपको पसंद आएँगी |

Intezar Shayari | इंतज़ार शायरी | Waiting Shayari

intezaar shayari

कहीं वो आ के मिटा दें न इंतज़ार का लुत्फ़,
कहीं क़ुबूल न हो जाए इल्तिजा मेरी।

Kaheen wo Aa Ke Mita De Na Intezaar Ka Lutf,
Kaheen Qubool Na Ho Jaye Iltija Meri.

intezaar true love shayari

Ai Maut Unhein Bhulaye Huye Zamane Gujar Gaye,
Aa Ja Ke Zeher Khaye Huye Zamane Gujar Gaye,
O Jaane Wale Aa Ke Tere Intezaar Mein,
Raste Ko Ghar Banaye Zamane Gujar Gaye.

ऐ मौत उन्हें भुलाए ज़माने गुजर गए,
आ जा कि ज़हर खाए ज़माने गुजर गए,
ओ जाने वाले आ कि तेरे इंतजार में,
रास्ते को घर बनाए ज़माने गुजर गए।

waiting shayari

फरियाद कर रही है यह तरसी हुई निगाह,
देखे हुए किसी को ज़माना गुजर गया।

Fariyad Kar Rahi Hai Ye Tarsi Huyi Nigaah,
Dekhe Huye Kisi Ko Zamana Gujar Gaya.

intezaar wali shayari

कुछ बातें करके वो हमें रुला के चले गए,
हम न भूलेंगे यह एहसास दिला के चले गए,
आयेंगे कब वो अब तो यह देखना है उम्र भर,
बुझ रही है आग जिसे वो जला कर चले गए।

Kuchh Baatein Karke Wo Humein Rula Ke Chale Gaye,
Hum Na Bhulenge Ye Ehsaas Dila Ke Chale Gaye,
Aayenge Kab Wo Ab To Ye Dekhna Hai Umr Bhar,
Bujh Rahi Hai Aag Jise Wo Jalaa Kar Chale Gaye.

intezaar shayari hindi

intezaar shayari in hindi

उनका भी कभी हम दीदार करते है,
उनसे भी कभी हम प्यार करते है,
क्या करे जो उनको हमारी जरुरत न थी पर,
फिर भी हम उनका इंतज़ार करते है ….

Unka Bhi hum Deedar Karte hai,
Unse Bhi kabhi hum pyar karte hai,
kya kare jo unko humari jarurat na thi,
par phir bhi hum unka intzaar karte hai….

intezaar shayari in hindi

इंतज़ार की आरज़ू अब खो गयी है,
खामोशियों की अब आदत हो गयी है

Intezaar ki aarzoo ab kho gayi hai,
Khamoshiyo ki ab aadat ho gayi hai…

shayari on intezar

रात देर तक तेरी दहलीज़ पर
बैठी रहीं आँखें,
खुद न आना था तो कोई
ख्वाब ही भेज दिया होता।

Raat der tak teri dehleez par,
baithi rahi ankhe,
Khud na aana tha, to koi,
Khwab hi bhej Diya hota…

intezar shayari urdu

ज़ख़्म इतने गहरे हैं इज़हार क्या करें,
हम खुद निशाना बन गए वार क्या करें,
मर गए हम मगर खुली रही ये आँखें,
इससे ज्यादा उनका इंतज़ार क्या करें।

Jakhm Itne Gahare Hain Izhaar Kya Karen,
Hum Khud Nishana Ban Gaye Baar Kya Karen,
Mar Gaye Hum Magar Khuli Rahi Ye Aankhein,
Isse Jyada Unka Intezaar Kya Karen.

intezar ki shayari

किश्तों में खुदकुशी कर रही है ये जिन्दगी…
इंतज़ार तेरा..
.मुझे पूरा मरने भी नहीं देता ।

Kishton Mein Khudakushee Kar Rahee Hai Ye Jindagee…
Intazaar Tera..
.Mujhe Poora Marane Bhee Nahin Deta .

intezaar shayari in hindi

intezaar shayari hindi

Ek Raat Wo Gaya Tha Jahan Baat Rok Ke,
Ab Tak Ruka Hua Hoon Wahin Raat Rok Ke.

एक रात वो गया था जहाँ बात रोक के,
अब तक रुका हुआ हूँ वहीं रात रोक के।

intjar sad shayari

तेरे इंतजार में सदिया बित गयी,
अब तो वो हर यादे मेरे जहन से मिट गयी

tere intzar me sdiya beet gai,
ab to vo hr yade mere jhn se mit gai…

waiting shayari in hindi

उसके इंतज़ार के मारे है हम,
बस उसकी यादों के सहारे हैं हम,
दुनिया जीत कर क्या करना है अब,
जिसे दुनिया से जीता था आज उसी से हारे है हम…

USKE INTEZAR KE MAARE HAI HUM,
BUS USKI YAADON KE SAHARE HAIN HUM,
DUNIYA JEET KAR KYA KARNA HAI AB,
JISE DUNIYA SE JEETA THA AAJ USI SE HAARE HAIN HUM….

intezar shayari hindi

देर लगी आने में तुमको, शुक्र है फिर भी आये तो,
आस ने दिल का साथ न छोड़ा, वैसे हम घबराये तो।

Der Lagi Aane Mein Tumko,
Shukr Hai Phir Bhi Aaye To,
Aas Ne Dil Ka Saath Na Chhoda,
Vaise Ham Ghabraye To.

intjar sad shayari in hindi

एक मुलाक़ात की आस में मैं ज़िंदगी गुज़ार लूंगा,
तुम हां तो कहो तुम्हारे लिए उम्र भर इंतज़ार करूंगा।

Ek muilaqat ki aas me,
Main jindgi gujaar lunga,
Tum haan to karo,
Tumhare liye umr bhar intezaar karunga…

phone ka intezar shayari

intezar ki shayari

उल्फ़त के मारों से ना पूछो आलम इंतज़ार का,
पतझड़ सी है ज़िन्दगी और ख्याल है बहार का।

Ulfat Ke Maaron Se Na Poochho Aalam Intezar Ka,
Patjhad Si Hai Zindagi Aur Khayal Hai Bahaar Ka.

intezaar shayari in hindi for girlfriend

झुकी हुई पलकों से उनका दीदार किया,
सब कुछ भुला के उनका इंतजार किया
वो जान ही न पाए जज्बात मेरे,
मैंने सबसे ज्यादा जिन्हें प्यार किया।

Jhuki Hui Palkon Se Unka Deedaar Kiya,
Sab Kuchh Bhula Ke Unka Inezaar Kiya
Wo Jaan Hi Na Paye Jajbaat Mere,
Maine Sabse Jyada Jinhen Pyar Kiya.

intezar poetry

दिन भर भटकते रहते हैं अरमान तुझसे मिलने के,
न ये दिल ठहरता है न तेरा इंतज़ार रुकता है।

Din Bhar Bhatakte Rahte Hain Armaan Tujhse Milne Ke,
Na Yeh Dil Thehrta Hai Na Tera Intezaar Rukta Hai.

tera intezaar shayari

ये कह-कह के हम दिल को समझा रहे हैं,
वो अब चल चुके हैं वो अब आ रहे हैं।

Ye Keh-Keh Ke Hum Dil Ko Samjha Rahe Hain,
Wo Ab Chal Chuke Hai Wo Ab Aa Rahe Hain.

intezar good night shayari

कभी तो चौंक के देखे कोई हमारी तरफ़,
किसी की आँख में हमको भी इंतज़ार दिखे।

Kabhi To Chaunk Ke Dekhe Koi Humari Taraf,
Kisi Ki Aankh Mein Humko Bhi Intezaar Dikhe.

maut ka intezar shayari

इंतजार रहेगा तु आ ना आ,
इरादे का पक्का हूँ ऊपर से आशिक भी तेरा हूँ,
सीने से लगा के सुन वो धड़कन ,
जो तुझसे मिलने के इंतजार में है…

Intezaar rahega tu aa na aa,
Iraado ka pakka hoo, uper se aashiq bhi tera hoo,
Seene se laga ke sun wo dhadkan,
Jo tujhse milne ke intezaar me hai…

call ka intezar shayari

उनसे मिलने को तरसती हैं आँखें,
तरस तरस कर बरसती हैं आँखें,
बरस बरस कर जब थक जाती हैं आँखें,
तो फिर से मिलने को तरसती हैं आँखें।

Unse milne ko tarasti hai ankhein,
Taras- Taras kar barasti hai ankhe,
Baras baras kar jab thak jaati hai ankhe,
To phir se milne ko tarasti hai ankhe…

intezar shayari in hindi

waiting shayari in hindi

कभी खुशी से खुशी के तरफ नहीं देखा।
तेरे जाने के बाद किसी और को नहीं देखा।
तेरा इंतजार करना तो है लिजिम।
इसलिए कभी हमने घड़ी की तरफ नहीं देखा।

Kabhi Kusi Se Khusi Ke Tarfh Nhi Dekha,
Tere Jane Ke Bad Kisi Our Ko Nhi Dekha,
Tera Intezaar Karna To Hai Lijim,
Easliye Kabhi Hmne Ghari Ki Tarfh Nhi Dekha,

intezar par shayari

हमने ये शाम चिरागों से सजा रखी है,
आपके इंतजार में पलके बिछा रखी हैं,
हवा टकरा रही है शमा से बार-बार,
और हमने शर्त इन हवाओं से लगा रखी है।

Humne Ye Shaam Chirago Se Saja Rakhi Hai,
Aapke Intezar Me Palke Bichha Rakhi Hain,
Hawa Takra Rahi Hai Shama Se Baar Baar,
Aur Humne Shart In Hawaon Se Laga Rakhi Hai.

aapke message ka intezar shayari

इन्तज़ार करेंगे
उन पलो का हम भी बेचैनी से
जब तेरे फ़ैसले तुझ तडपायेगे बहुत

Intazaar Karenge
Un Palo Ka Ham Bhee Bechainee Se
Jab Tere Faisale Tujh Tadapaayege Bahut

intezaar shayari in english

हम तो आपसे पलकें बिछा कर प्यार करते हैं ।
ये वो गुनाह हैं जो हम बार बार करते हैं।
दिल से ख्वाहिशो केई चिराग जलाकर।
हम सुबहो शाम तेरे मिलने का इंतजार करते हैं।

Ham To Aapse Palke Bichha Kar Payar Karte Hai,
Ye Wo Gunah Hai Jo Ham Bar Bar Karte Hai,
Dil Se Khawahise Keei Chirag Jalakar,
Ham Subho Sam Tere Milne Ka intezaar Karte Hai…

intezaar shayari hindi for boyfriend

फिर आज कोई गजल तेरे नाम न हो जाये
कहीं लिखते लिखते शाम न हो जाये
कर रहे हैं इंतज़ार तेरी मोहब्बत का इसी इंतज़ार में
तमाम न हो जाये

PHIR AAJ KOI GAZAL TERE NAAM NA HO JAYE
KAHIN LIKHTE LIKHTE SHAAM NA HO JAYE
JAR RAHE HAIN INTEZAAR TERI MOHABAAT KA
ISI INTEZAAR ME ZINDAGI TAMAM NAHO JAYE

intezar status in hindi 2 line

जब हो जाये मेरी मोहब्बत पे एतबार
तो लौट आना हम आज भी तेरे इन्तजार में हैं

Jab Ho Jaaye Meri Mohabbat Pe Aitbaar
To Laut Aana Ham Aaj Bhi Tere Intezaar Mein Hain

intezaar shayari 2 lines

आंखों का इंतज़ार तुम पर आकर ही तो खत्म होता है,
फिर चाहे वो हकीकत या फिर ख्वाब।

Ankho ka intezaar tum par,
Aakar hi to khatm hota hai,
Phir chahe wo Haqeeqat ya phir Khwab..

shayari on intezaar by ghalib

किन लफ्जों में लिखूँ मैं अपने इन्तजार को तुम्हें,
बेजुबां है इश्क़ मेरा ढूँढता है खामोशी से तुझे।

Kin Lafjon Mein Likhoon Main Apne Intezaar Ko Tumhen,
Bejuban Hai Ishq Mera Dhoondhta Hai Khamoshi Se Tujhe.

msg ka intezar shayari

वो तारों की तरह रात भर चमकते रहे,
हम चाँद से तन्हा सफ़र करते रहे,
वो तो बीते वक़्त थे उन्हें आना न था,
हम यूँ ही सारी रात करवट बदलते रहे।

Wo Taaro Ki Tarah Raat Bhar Chamkte Rahe,
Hum Chaand Se Tanha Safar Karte Rahe,
Wo To Beete Waqt The Unhein Aana Na Tha,
Hum Yoon Hi Saari Raat Karbat Badalte Rahe.

shayari for waiting

किसी रोज़ होगी रोशन मेरी भी ज़िंदगी,
इंतज़ार सुबह का नहीं तेरे लौट आने का है।

Kisi Roz Hogi Roshan Meri Bhi Zindagi,
Intzaar Subah Ka Nahi Tere Laut Aane Ka Hai.

shayari for intezar

ये कैसी मोहब्बत है की मै किस खुमार में हूँ
वो आके जा चुकी है मै अब भी इंतजार मे हूँ

Yeh kaisi Mohabbat hai ki,
Main kis khumaar me hoo,
Wo aake jaa chuki hai,
Main ab bhi intezaar main hooo…

shayari on intezaar in hindi

शाम है बुझी बुझी वक्त है खफा खफा,
कुछ हंसीं यादें हैं कुछ भरी सी आँखें हैं,
कह रही है मेरी ये तरसती नजर,
अब तो आ जाइये अब न तड़पाइये।

Shaam hai Bujhi bujhi waqt hai khafa-khafa,
Kuch haseen yaade hai, Kucch bhari si ankhe hai,
Keh rahi hai meri ye tarasti nazar,
Ab to aa jaiye ab na Tadpaiye…

intezaar par shayari

वो रुख्सत हुई तो आँख मिलाकर नहीं गई,
वो क्यों गई यह बताकर नहीं गई,
लगता है वापिस अभी लौट आएगी,
वो जाते हुए चिराग़ बुझाकर नहीं गई।

Wo Rukhsat Hui To Aankh Mila Kar Gayi,
Wo Kyun Gai Yeh Bata Kar Nahin Gayi,
Lagta Hai Bapis Abhi Laut Aayegi,
Wo Jaate Hue Chirag Bujha Kar Nahin Gayi,

wait karna shayari

तेरी मोहब्बत पे मेरा हक तो नहीं
पर दिल चाहता है आखरी साँस तक तेरा इंतज़ार करू

Teri Mohabbat Pe Mera Hak To Nahin
Par Dil Chaahata Hai Aakharee Saans Tak Tera Intazaar Karoo

waiting shayari for gf in hindi

अरमान था तेरे साथ ज़िन्दगी बिताने का,
शिकवा हैं खुद से खामोश रह जाने का,
दीवानगी इससे बढ़ कर और क्या होगी,
आज भी इंतजार हैं तेरे आने का,

Arman Tha Tere Sath Jiandgi Bitane Ka,
Sikwa Hai Khud Se Khamos Rah Jane Ka,
Diwangi Easse Bath Kar Our Kya Hogi,
Aaj Bhi Intezaar Hai Tere Aane Ka,

intjar wali shayari

सुना है वो जाते हुए कह गए के अब तो हम सिर्फ आपके
खुवाबों में ही आयेंग्गे कोई कह दे कि वो वादा कर ले
हम ज़िन्दगी भर के लिए सो जाएंगे

किन लफ्जों में लिखूँ मैं अपने इन्तजार को तुम्हें,
बेजुबां है इश्क़ मेरा ढूँढता है खामोशी से तुझे।

tera intezaar quotes in hindi

Kin Laphjon Mein Likhoon Main Apane Intajaar Ko Tumhen,
Bejubaan Hai Ishq Mera Dhoondhta Hai Khamoshi Se Tujhe.

खुद हैरान हूँ मैं अपने सब्र का पैमाना देख कर,
तूने याद भी ना किया,
और मैंने इंतज़ार नहीं छोड़ा।

kisi ke intezar mein shayari

Aankhon Ko Intezaar Ki Bhatti Pe Rakh Diya,
Maine Diye Ko Aandhi Ki Marzi Pe Rakh Diya.

आँखों को इंतज़ार की भट्टी पे रख दिया,
मैंने दिये को आँधी की मर्ज़ी पे रख दिया।

intezaar ki shayari

ये जो पत्थर है आदमी था कभी,
इस को कहते हैं इंतज़ार मियां।

Ye Jo Patthar Hai Aadmi Tha Kabhi,
Iss Ko Kehte Hain Intezaar Miyaan.

love wait shayari

हम ठहर भी जायेंगे राह-ए-जिंदगी में
तुम जो पास आने का इशारा करो,
मुँह को फेरे हुए मेरे तकदीर सी,
यूँ न चले जाइये अब तो आ जाइये।

kisi ka intezar shayari

तेरे इंतज़ार में यह नज़रें झुकी हैं,
तेरा दीदार करने की चाह जगी है,
न जानूँ तेरा नाम, न तेरा पता,
फिर भी न जाने क्यों इस पागल दिल में,
एक अज़ब सी बेचैनी जगी है।

Tere Intezar Me Yeh Najren Jhuki Hain,
Tera Didaar Karne Ki Chaah Jagi Hai,
Na Jaanu Tera Naam, Na Tera Pata,
Fir Bhi Na Jaane Kyun Is Pagal Dil Me,
Ek Ajab Si Bechaini Jagi Hai.

love intezar shayari

यूँ ही भटकते रहते हैं अरमान तुमसे मिलने के,
न ये दिल ठहरता हैं न तेरा इंतजार रुकता हैं,

Yu Hi Bhatkte Rahte Hai Arman Tumse Milne Ke,
N Ye Dil Thahrta Hai Na Tera Intezaar Rukta Hai,

pyar ka intezar shayari

किसी के इन्तेजार की तलब जरूरी है.
वर्ना वक्त गुजरता जरूर है कटता नही

Kisi Ke Intezaar Ki Talab Jaroori Hai.
Varna Vakt Gujarata Jaroor Hai Katata Nahee

मैं आशा करता हूँ, की आपको ये इंतज़ार वाली शायरी हिंदी में पसंद आई होगी | ऐसे ही पोस्ट पढने के लिए आप हमारी website पर visit करते करते रहिये और ऐसे ही पोस्ट हम आपके लिए लाते रहेंगे धन्यबाद |

Read Also….

Gravatar Image
I am a blogger and youtuber.my born on 05 sep. 2002.I have passed 12 to biology,and my future only on blogging.

3 thoughts on “Intezar Shayari | इंतज़ार शायरी | Waiting Shayari

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *