Sad shayari In Hindi (दर्द से भरी शायरी हिंदी में )

तेरी दीवानगी का आलम इस कदर हो गया है
मेरा चैनों सुकून अब तो सब खो गया है।
आकर क़भी थाम ले मेरा हाथ तू
तू ही तो मेरा अब रब हो गया है।।

जो भी वक़्त आज भी गुजरता है
शाम के साये में।
बहुत ही याद आता है तू
सोचता हूँ क्यो आज हूँ मैं तेरे परायो में।।

कोई हाल दिल का अपने सुनाता नही है
कोई प्यार से अब मुझे बुलाता नहीं हैं।
ये प्यार है प्यार तुम सुन लो
ये दूर तक अब देख पाता नही है।।

Leave a comment